Jokes > Funny Jokes - HindiJokes.Mobi
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
पति-पत्नी एक ही प्लेट में गोलगप्पे खा रहे थे। एक दूसरे की आँख में आँख डाले पत्नी ने रोमांटिक हो कर पूछा,
"ऐसे क्या देख रहे हो जी?"
पति: थोडा आराम से खा, मेरी बारी ही नहीं आ रही।
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
बाजार में जाते पप्पू को एक लड़की ने पीछे से आवाज़ दी,
"आपका नोट गिर गया।"
पप्पू: मैं आज भी गिरे हुए पैसे नहीं उठाता।
लड़की: अबे तेरा सैमसंग नोट गिर गया।
पप्पू: ओये तेरी कहाँ गया? कैसे गिर गया?
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
जीतो: भईया, आज समोसे अच्छे नहीं बने हैं।
कल वाले अच्छे थे।
..
.
समोसे वाला: क्या बात कर रही हैं बहन जी,
यह कल वाले ही तो हैं।
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
शादी""करंट" के तार की तरह होती हैं...!!!
सही जुड़ जाये तो सारा जीवन "रोशन"...!!!!
और
गलत जुड़ जाये तो"जिंदगी" भर "झटके"...!!!
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
कैक्टस जैसी शक़्ल वाले भी ,अथिया शेट्टी के लुक्स पर उँगलियाँ उठा रहे है
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
जरुरी नही लड़की फोन को फ्रंट में कर के
सेल्फ़ी ही ले रही हो,,,
.
.
.
.
.
कई बार एयरसेल के सिग्नल पकड़ने के लिए
भी ये टेकनीक काम में लाई जाती है।
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
नदी में डूबते हुए आदमी ने पुल पर चलते हुए आदमी को आवाज़ लगायी। आदमी: `बचाओ-बचाओ।`

पुल पर चलते आदमी ने नीचे देखा और उस आदमी को बचाने के लिए पुल से नीचे रस्सी फैंकी और कहा, `रस्सी को पकड़ के ऊपर आ जाओ।`

परन्तु नदी में डूबता हुआ आदमी रस्सी नहीं पकड़ पा रहा था तो वह डर के मारे चिल्ला कर बोला, `मैं मरना नहीं चाहता, ज़िन्दगी बड़ी कीमती है कल ही तो मेरी टार्जन कंपनी में बड़ी अच्छी नौकरी लगी है।`

इतना सुनते ही पुल पर चलते आदमी ने अपनी रस्सी खींच ली और भागते-भागते टार्जन कंपनी के दफ्तर में गया वहां के मैनेजर से बोला,` जिस आदमी को आपने कल नौकरी दी थी वो अभी-अभी डूबकर मर गया है, और इस तरह आपकी कंपनी में एक जगह खाली हो गयी है, मैं बेरोजगार हूँ इसीलिए मुझे रख लीजिये।`

मैनेजर: `दोस्त, तुमने देर कर दी, अब से कुछ देर पहले हमने उस आदमी को रखा है, जो उसे धक्का दे कर तुमसे पहले यहाँ आया है।`
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
Santa की साली उसकी बीबी से ज्यादा सुन्दर थी
उसे इस बात को के लेकर खुन्नस रहती थी
एक बार वह अपनी सास के यहाँ गया और बोला
जब आपके यहाँ रसगुल्ला था तो हमें दहीबड़ा क्यों पकड़ा दिया