Jokes > Hindi Jokes - HindiJokes.Mobi
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 29 days ago

ज़रूरी नहीं कि हर अच्छी लगने वाली चीज़ समझ में आये।
"जिहाल-ए-मस्ती मुकुन ब रंजिश बहार-ए-हिजरा बेचारा दिल है"आज तक समझ नहीं आया।
किसी को मतलब पता चले तो बताना।
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 29 days ago

Chartered Accountant: तमीज से बात कर, हम CA हैं।
Tailor: ऐसा है,तो हम भी बहुत सिये हैं, बचपन से आज तक बस सिये ही सिये हैं।
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 29 days ago

फ़ास्ट फ़ूड खाने से आदमी फ़ास्ट नहीं हो जाता। स्मार्ट फ़ोन रखने से स्मार्ट नहीं हो जाता।
लेकिन लूज मोशन होने से "लूज" ज़रूर हो जाता है।
दिवाली की बची हुई मिठाई संभाल के खाना रे बाबा।
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 29 days ago
पूजा के दौरान:
माँ: अरे तुम्हें आरती याद है न?
बेटा: हाँ माँ, वो पतली सी, काली आँखों वाली, सुन्दर सी, शर्मा जी की बेटी, वही न?
माँ: कमबख्त, माता की आरती की बात कर रही हूँ।
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 30 days ago

सेब मीठा होना चाहिए,
‘लाल’ तो ‘आडवाणी’ भी हैं।

राष्ट्रपति कलाम होना चाहिए,
‘मुखर्जी’ तो रानी भी है।

लड़का द्रविड जैसा होना चाहिए,
‘राहुल’ तो ‘गांधी’ भी है।

लड़का हँडसम होना चाहिए,
‘स्मार्ट’ तो फोन भी होते हैं।

इंसान का दिल बड़ा होना चाहिए,
‘छोटा’ तो भीम भी है।

लड़की में अक्ल होनी चाहिए,
‘सूरत’ तो गुजरात में भी है।

रिप्लाई ढंग का होना हिए,
‘Hmmm’ तो भैंस भी करती है।

व्यक्ति को समझदार होना चाहिए,
‘सेंसेटिव’ तो टूथपेस्ट भी है।

घूमना तो हिल स्टेशन पर चाहिए,
‘गोवा’ तो पान मसाला भी है।

दवाई ठीक करने के लिए होना चाहिए,
‘टेबलेट’ तो सैमसंग का भी है।

मोबाइल जनरल मोड पर होना चाहिए,
‘साइलेंट’ तो मनमोहन भी हैं।

टीचर ज्यादा नंबर देने वाला होना चाहिए,
‘अंडा’ तो मुर्गी भी देती है।

फोन तो आईफोन होना चाहिए,
‘S1, S2…S4’ तो ट्रेन के डिब्बे भी होते हैं।
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 30 days ago

Science ने कितनी भी तरक्की कर ली हो लेकिन इस बात का अभी तक पता नहीं लगा पाये की फुस हुआ अनार और आलू बंब पास जाने पे ही क्यों फटता है
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 30 days ago

सच में बहुत दुःख होता है जब दीवाली के 3 महीने पहले से "हैप्पी दीवाली इन एडवांस" का msg भेजने वाले, दीवाली के दिन एक गिफ्ट तक नहीं भेजते।
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 30 days ago

एक पत्नी को जितनी ख़ुशी मायके में पैर रखते ही होती है उतनी ही कुछ पतियों को गोवा और बैंकाक के ख्याल से ही होने लगती है।