Jokes > Funny Jokes - HindiJokes.Mobi
Himaŋshʋ Gʋpta : 12 months ago
लडकियां red कलर की लिपस्टिक के 20 shades में भी आसानी से 40 अंतर बता सकती हैं
और
लड़के .... . .
.
.
.
.
शैम्पू की बजाये कंडिशनर से नहा लेंगे और बोलेंगे.... . . साला कौन लाया ये शैम्पू . . . . झाग ही नहीं है
Himaŋshʋ Gʋpta : 12 months ago
जून में ही मानसून दस्तक क्यों देता है . .
क्योकि...
.
.
.
.
.
बीवियाँ इस समय मायके से सुसराल आती हैं जिसे देखकर आसमाँ भी फुट फुट कर रो पड़ता है
Himaŋshʋ Gʋpta : 12 months ago
"एक दिन चम्पू घर के बालकानी में खड़ा सिगरेट पी रहा
था, तभी उसके पिता आ गए।
चम्पू ने जल्दी से सिगरेट शर्ट की जेब में छुपा ली।
पिता - चम्पू, क्या तुम सिगरेट पी रहे थे।
चम्पू- नहीं तो...
पिता- तो फिर तुम्हारे शर्ट से ये धुआं क्यों निकल रहा
है ?
चम्पू बोला - आपने बात ही दिल जलाने वाली की है।"
Himaŋshʋ Gʋpta : 12 months ago
अगर चीन की सीमा U.P. को लगती तो...............
U.P. की औरते, गोबर के कंडे थाप-थाप के .....
आधे चीन पे कब्ज़ा कर लेती.
Himaŋshʋ Gʋpta : 12 months ago
1000 का नोट
और
एक्स-रे की रिपोर्ट,

बन्दा भले ही उसके विषय में कुछ भी ना जानता हो,
पर हाथ में आते ही ऊँचा करके देखता जरूर है ।
Himaŋshʋ Gʋpta : 12 months ago
मैगी पर बैन लग गया तो क्या हुआ?........

यूपी के हैं हम, 2 मिनट में
सतुआ घोर के खाइ लिये !!
Himaŋshʋ Gʋpta : 12 months ago
गुरु, गुरु ही होता है!
एक रात, चार कॉलेज विद्यार्थी देर तक मस्ती करते रहे और जब होश आया तो अगली सुबह होने वाली परीक्षा का भूत उनके सामने आकर खड़ा हो गया।

परीक्षा से बचने के लिए उन्होंने एक योजना बनाई। मैकेनिकों जैसे गंदे और फटे पुराने कपड़े पहनकर वे प्रिंसिपल के सामने जा खड़े हुए और उन्हें अपनी दुर्दशा की जानकारी दी।

उन्होंने प्रिंसिपल को बताया कि कल रात वे चारों एक दोस्त की शादी में गए हुए थे। लौटते में गाड़ी का टायर पंक्चर हो गया। किसी तरह धक्का लगा-लगाकर गाड़ी को यहां तक लाए हैं। इतनी थकान है कि बैठना भी संभव नहीं दिखता, पेपर हल करना तो दूर की बात है। यदि आप हम चारों की परीक्षा आज के बजाय किसी और दिन ले लें तो बड़ी मेहरबानी होगी।

प्रिंसिपल साहब बड़ी आसानी से मान गए। उन्होंने तीन दिन बाद का समय दिया। विद्यार्थियों ने प्रिंसिपल साहब को धन्यवाद दिया और जाकर परीक्षा की तैयारी में लग गए।

तीन दिन बाद जब वे परीक्षा देने पहुंचे तो प्रिंसिपल ने बताया कि यह विशेष परीक्षा केवल उन चारों के लिए ही आयोजित की गई है। चारों को अलग-अलग कमरों में बैठना होगा।

चारों विद्यार्थी अपने-अपने नियत कमरों में जाकर बैठ गए। जो प्रश्नपत्र उन्हें दिया गया उसमें केवल दो ही प्रश्न थे:

प्र.1 आपका नाम क्या है? (2 अंक)

प्र.2 गाड़ी का कौन सा टायर पंक्चर हुआ था? (98 अंक)
Himaŋshʋ Gʋpta : 12 months ago
शादी के बाद पति - पत्नी!
शादी के बाद पत्नी कैसे बदलती है, जरा गौर कीजिए:

पहले साल: मैंने कहा जी खाना खा लीजिए, आपने काफी देर से कुछ खाया नहीं।
दूसरे साल: जी खाना तैयार है, लगा दूं?
तीसरे साल: खाना बन चुका है, जब खाना हो तब बता देना।
चौथे साल: खाना बनाकर रख दिया है, मैं बाजार जा रही हूं, खुद ही निकाल कर खा लेना।
पांचवे साल: मैं कहती हूं आज मुझ से खाना नहीं बनेगा, होटल से ले आओ।
छठे साल: जब देखो खाना, खाना और खाना, अभी सुबह ही तो खाया था।

शादी के बाद पति कैसे बदलते हैं, जरा गौर कीजिए:

पहले साल: जानू संभलकर उधर गड्ढा है।
दूसरे साल: अरे यार देख के उधर गड्ढा है।
तीसरे साल: दिखता नहीं उधर गड्ढा है।
चौथे साल: अंधी है क्या गड्ढा नहीं दिखता।
पांचवे साल: अरे उधर - किधर मरने जा रही है गड्ढा तो इधर है।