WhatsApp Jokes - HindiJokes.Mobi
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 2 days ago

ख़ाली नही रहा कभी आँखों का ये मकान;
सब अश्क़ बाहर गये तो उदासी ठहर गई!
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 2 days ago
दिल का बुरा नहीं हूँ;
बस लफ्जों मे थोड़ी शरारत लिए फिरता हूँ!
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 2 days ago

कुछ लोग ज़िन्दगी में पीछे रह जाते हैं
.
.
.
और
.
.
.
.
.
उनके पेट आगे निकल आते हैं
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 2 days ago
साला आज-कल के साबुन देख कर,

पता ही नहीं चलता की नहाने के लिए है या खाने के लिए!!

मलाई..दूध..केशर..युक्त.
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 3 days ago

सिंगल होने का दुविधा ये हैं कि
कोई लड़की समझ नहीं रही
और पितामह को बोल नही सकते
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 3 days ago
पत्रकार :
कश्मीर के हालात बहुत खराब है,
सीमा पर गोलीबारी हो रही है,
आपका क्या कहना है ?

राहुल गांधी :
सीमा को कुछ दिन घर पर रहना चाहिए
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 4 days ago

एक वक्त था जब रात 12 बजे के बाद भूत ,प्रेत ,चुड़ैल से डर लगने लगता था ,,,
लेकिन ट्वीटर ,व्हाट्सअप और फेसबुक नें इनका रोजगार छीन लिया
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 4 days ago

आधा जनवरी का महीना तो 2017 की जगह गलती से 2016 लिखने में ही निकल गया ।