Special SMS - HindiJokes.Mobi
Himaŋshʋ Gʋpta: 8 days ago
एकलव्य आज जिंदा होता तो द्रोणचार्य को कोस रहा होता,
बिना अंगूठे के ना तो उसका आधार कार्ड बनता और ना जियो की सिम मिलती।
Himaŋshʋ Gʋpta: 10 days ago

कक्षा दसवीं की परीक्षा मे प्रश्न पूछा गया –
“माल्यार्पण करना” का अर्थ बताओ

होनहार छात्र ने लिखा –

सरकारी बैँकोँ द्वारा गरीब जनता की
गाढी कमाई माल्या को अर्पण
करने को ही माल्यार्पण कहते है।

और बच्चा सीधे MBA के लिये सेलेक्ट हो गया।
Himaŋshʋ Gʋpta: 10 days ago

पति का नाम भले ही शंकर हो लेकिन...
.
.
.
.
.
.
.
.
तांडव हमेशा पत्नी ही करती है।
Himaŋshʋ Gʋpta: 10 days ago
हिंदी की कक्षा में:
मास्टर: कविता और निबंध में अंतर बताओ।
पप्पू: गर्लफ्रेंड के मुँह से निकला एक शब्द भी कविता के समान होता है और पत्नी के मुँह से निकला एक ही शब्द निबंध के समान होता है। :d
Himaŋshʋ Gʋpta: 11 days ago

नाच लो गा लो हमारे साथ;
आया है बैसाखी का त्यौहार;
मना लो खुशियाँ सबके साथ;
आई है अब मौजों की बहार;
मुबारक हो आपको बैसाखी का त्यौहार।
Himaŋshʋ Gʋpta: 11 days ago

खत्म हुई अब फसलों की राखी;
नाचो, गाओ ख़ुशी मनाओ;
ख़ुशी का त्यौहार देखो आई बैसाखी।
बैसाखी की आप सभी को हार्दिक बधाई!
Himaŋshʋ Gʋpta: 11 days ago

खालसा मेरो रूप है ख़ास;
खालसे मैं हौं करूँ निवास;
खालसा मेरो मुख है अंगा;
खालसे के हौं हौं सदा सदा संगा।
खालसे के साजना दिवस की आप सब को बधाई!
Himaŋshʋ Gʋpta: 11 days ago

बैसाखी आई, साथ में ढेर सारी खुशियां लाई;
तो भंगड़ा पाओ, ख़ुशी मनाओ;
मिलकर सब चलो जश्न मनाओ।
बैसाखी की शुभकामनाएं!