Hindi jokes - HindiJokes.Mobi
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
एक आदमी की तपस्या से प्रसन्न होकर
भगवान उसको अमृत देते हैं तो
वो मना कर देता है |

भगवान - क्यों वत्स..अमृत क्यों नहीं पी रहे ?
.
.
.
.
.
.
.
.
.


आदमी -अभहियें गुटका खाये हैं प्रभु !!
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
साला प्यार पर कितना भी यकीन करने की कोशिश करो...
.
.
.
.
.
.
.
.
.
"सावधान इंडिया" का एक एपिसोड सारी मेहनत पर पानी फेर देता है !!
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
एक घड़ीसाज का प्रेम पत्र :

मैंने हमेशा 13:07 दिया, तुम भी कभी मेरा 07:02… हम 02:09 को हमेशा 01:07 रहना है। इसलिए मुझे छोड़ने की गलती 02:12 न करना !
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
भुकंप से डर नही लगता साहब
डर तो इस बात का हे की...
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
कंही "idea" का टावर न गिर जाये बिचारे " I.I.N." वालो की पढ़ाई रूक जायेगी
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
मैं ठहरा रहा जमीन चलने लगी
क्या ये मेरा पहला-पहला प्यार है
.
.
.
साले भूकंप है भाग
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
बॉस (सेक्रेटरी से): तुम और मैं एक हफ्ते के लिए लंदन जा रहे हैं। ज़रूरी मीटिंग है।

सेक्रेटरी (पति से): ऑफिस के काम से मुझे बॉस के साथ एक हफ्ते के लिए लंदन जाना है। जरूरी मीटिंग है।

पति (अपनी गर्लफ्रेंड से, जो एक टीचर है): मेरी बीवी एक हफ्ते के लिए बाहर जा रही है। उसके जाते ही तुम घर आ जाना।

गर्लफ्रेंड (स्टूडेंट्स से): बच्चो, मैं एक हफ्ते के लिए बाहर जा रही हूं, इसलिए तुम्हारी एक हफ्ते की छुट्टी।

एक स्टूडेंट (अपने पिता से, जो कि बॉस है): डैड, मेरी एक हफ्ते की छुट्टी है। मैं घर आ रहा हूं, आप कहीं मत जाना।

बॉस (सेक्रेटरी से): मेरा बेटा आ रहा है। लंदन जाना कैंसल।

सेक्रेटरी (पति से): लंदन जाना कैंसल हो गया।

पति (गर्लफ्रेंड से, जो कि टीचर है): पत्नी नहीं जा रही। हमारा प्रोग्राम कैंसल।

टीचर (स्टूडेंट्स से): बच्चो, आपकी छुट्टियां कैंसल।

स्टूडेंट (पिता से, जो कि बॉस है): पापा, मैं नहीं आ सकता। छुट्टियां कैंसल हो गईं।

.
.
.
.
बॉस (सेक्रेटरी से): मेरा बेटा नहीं आ रहा, हम एक हफ्ते के लिए लंदन जा रहे हैं!
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
अगर आप पत्नी और कामवाली बाई के बीच के वार्तालाप पर गौर करें तो काफी सारे "वन-लाइनर्स" ऐसे होते हैं मानो एक प्रेमिका अपने प्रेमी से बात कर रही हो।

जैसे कि...

सुनो, कल टाइम से आ जाना हाँ।

कल दो बार आ जाना, देखो मैं इंतज़ार करूंगी, धोखा मत दे देना ऐन टाइम पे।

मैं कब से तुम्हारा इंतज़ार कर रही थी। आज बहुत देर कर दी, कल थोड़ा जल्दी आ जाना।

और सबसे क्लासिक, "देखो जब भी छोड़ना हो तो पहले से बता देना, एकदम से मत छोड़ना ताकि मैं दूसरा इंतजाम कर सकूं।"
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
एक आदमी ने दुर्घटना में दोनों कान खो दिए, कोई भी प्लास्टिक सर्जन उसका समाधान नहीं कर पाया, उसने किसी से सुना कि स्वीडन में कोई सर्जन है जो इसे ठीक कर सकता है और वो उसके पास गया।

नए सर्जन ने उस कि जांच की, थोड़ी देर सोचा और फिर कहा, मैं तुम्हें ठीक कर दूंगा।

ओप्रशन के बाद पट्टियां खोली गयी, टांके भी खोल दिए गए और वो वापिस अपने होटल चला गया।

अगली सुबह उसने बहुत गुस्से में सर्जन को फ़ोन किया और जोर से चिल्लाया कमीने तुमने मुझ में औरत का कान लगाया है।

सर्जन ने कहा, तो क्या हुआ कान तो कान है, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, औरत का हो या मर्द का।

ऐसा नहीं है, आप गलत बोल रहे हैं, मैं सुन तो सब कुछ सकता हूँ, पर समझ में कुछ भी नहीं आ रहा है।