Hindi jokes - HindiJokes.Mobi
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
जब शम्मी कपूर का निधन हुआ था तो, हमें चैनल बदल-बदल कर उनकी महत्वपूर्ण फिल्मो के clips देखने का अवसर मिला था...
.
बालासाहेब ठाकरे की अंत्येष्टि में सभी चैनल्स ने सारे दिन...ठाकरे जी की जीवनी दिखाई.
.
ग़ज़ल-सम्राट जगजीत सिंह जी के गुजरने पर टीवी चैनल्स पर सिर्फ़ उनके नगमों की ही गूँज सुनाई देती रही...दिन भर !
.
.
.
अब तो बस Sunny Leonne की आँखे बंद होने का इंतज़ार है"
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
तब , महबूबा की गलियों के चक्कर काट काट कर जवानी बिता दी जाती थी
अब , मोबाइल को चार्जिंग में लगाये लगाये बीत रही है.
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
ये लड़कियाँ भी ना
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
ये सिर्फ आपका ध्यान खीचने के लिए था,
कृप्या सड़क पर कचरा ना फेके,
उसके लिए DUST bin का प्रयोग करे.
Thanks to read- please Share
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
आजकल के बच्चे मां-बाप से ज़िद कर के पिज़्ज़ा-बर्गर खाते हैं..
हम ज्यादा ज़िद करते थे तो.. लात खा जाते थे..!
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
आज पप्पु ने पूरा SCHOOL हिला डाला,
.
.
.
.
Teacher:- छिपकली कौन है?
.
.
.
.
.
Pappu:- छिपकली एक गरीब मगरमच्छ है जिसे
बचपन
मेँ Bourn Vita वाला दूध नहीं मिला , जिस कारण
वो कुपोषण का शिकार हो गया।
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
बेटा लंदन से फोन पर - माँ.. मुबारक हो , हम दो से तीन हो गये हैँ ।
.
.
माँ (खुश होते हुए ) - मुबारक हो बेटा तुम्हें भी , लडका हुआ है या लडकी ?
.
.
बेटा - नहीँ माँ वो बात नहीँ है ...
" तुम्हारी बहू ने दूसरी शादी कर ली है " !!
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
ज़रा गौर फरमाईएगा, कविता का नाम है -
"दो बूंद"
सुनिए .....
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
."टपक ! टपक !!"
शुक्रिया, उम्मीद है की पसन्द आई होगी....
Himaŋshʋ Gʋpta : 2 years ago
मुझे अपनी सही वैल्यू उस समय पता
चली.
.
.
.
जब
.
.
.
.
.
कस्टमर केयर वाली ने कहा, आपकी
कॉल हमारे लिए महत्वपूर्ण है।