Hindi Jokes - हिंदी चुटकुले - Jokes in Hindi - Funny SMS and Jokes - Very Funny Jokes - HindiJokes.Mobi
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 2 days ago

गोल्ड तक तो ठीक है अगर किसी ने 'गोल्ड फ्लैक' पर लिमिट लगायी तो तलवारें चल जाएँगी तलवारें।
"समस्त होस्टलर और इंजीनियर संघ"!
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 2 days ago

लड़की: मेरा दिल मोबाइल और तुम उसका सिम हो।
लड़का: जानू एक बात पूछुं?
लड़की: हाँ पूछो।
लड़का: तुम्हारा मोबाइल Dual-Sim वाला तो नहीं।
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 2 days ago
गर्लफ्रेंड: बाबू मेरी ज़्यादा याद कब आती है?
पप्पू: जब मम्मी बोलती है, "आने दे तेरी बीवी को, घर के सारे काम उसी से करवाउंगी"।
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 3 days ago

कल शाम मे एक औरत को ठिठुरता देख
मैरे दोस्त ने अपना कम्बल उसके बदन पर दे दिया।

उसने कम्बल फ़ेकते हुए कहा
“गरीब नही हूँ शादी मे जा रही हूँ ।”
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 3 days ago
पत्नी अपने पति को
बार बार बोलती थी :

“एक चुटकी सिन्दूर की कीमत
तुम क्या जानो बाबू”

तो पति ने उसे अपने पास बिठाकर हिंदी में समझाया :

देख…
रसोई राशन Rs 13,000/-
बिजली बिल Rs. 2,500/-
पानी Rs. 1,000/-
बच्चों की स्कूल फीस Rs.12,000/
ट्युशन फीस Rs. 3,000/-
मकान EMI. Rs.17,500/-
मोबाइल खर्च Rs. 1,500/-
मेडिसन Rs. 1,500/-
पेट्रोल Rs. 2,000/-
अन्य खरचा Rs. 6,000/

और ये सब इसलिए कि तेरी मांग में
एक चुटकी सिन्दूर भरा है। वरना 10
हजार में मस्त जी रहा होता।

इसलिए सुन एक चुटकी सिन्दूर की
कीमत कम से कम 60,000/- रू महिना है ।

आज के बाद चुप रहियो ।।
Sandeep Kumar Kushwaha: 5 days ago
अच्छा-खासा ध्यान पढ़ाई पर लगाने की सोच रहा था...
.
.
अंबानी ने जियो सिम की शुरूआत करके फिर सत्यनाश कर दिया :-
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 5 days ago
पेश है एक मजेदार किस्सा !

एक बार की बात है कि गुप्ताजी, एक
मारवाड़ी (बनिये) के यहां शादी में गए।

शादी का पंडाल बड़ा भव्य था और उसमें अंदर जाने के लिए 2 दरवाजे थे।

एक दरवाजे पर रिश्तेदार, दूसरे पर दोस्त लिखा था।
गुप्ताजी, बड़े फख्र से दोस्त वाले दरवाजे से अंदर गए।

आगे फिर 2 दरवाजे थे,
एक पर महिला, दूसरे पर पुरुष लिखा था।
गुप्ताजी पुरुष वाले दरवाजे से अंदर गए।

वहां भी 2 दरवाजे और थे,
एक पर गिफ्ट (gift) देने वाला,
दूसरे पर बिना गिफ्ट (without-gift) वाले लिखा था।

गुप्ताजी को हर बार अपनी
मर्जी के दरवाजे से अंदर जाने में बड़ा मजा आ रहा था|

उसने ऐसा इंतजाम पहली बार देखा था |
गुप्ताजी बिना-गिफ्ट वाले दरवाजे से अंदर चले गए।

जब अंदर जाकर देखा तो गुप्ताजी बाहर गली में खड़े थे।
और वहॉं लिखा था… शर्म तो आ नहीं रही होगी,
बनिये की शादी और मुफ्त में रोटी खायेगा???
जा-जा बाहर जा और हवा खा..!!
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 6 days ago

लड़कियों की Smile इतना Confuse कर देती है कि,
समझ में ही नहीं आता कि वे हंस कर देख रही हैं या देख कर हंस रही हैं।